मुख्य लेख

फिर से दुहराया मीठा शब्दजाल और जिम्मेदारी से पलायन

February, 2017

मोदी सरकार का चैथा बजट, यूनियन बजट 2017-18, एक वित्तीय और आर्थिक संकट के दौर में पेश किया गया जिसमें विमुद्रीकरण को मूर्खतापूर्ण ढंग से तरीके से लागू किए जाने की छाया बड़ी थी, जिसने अर्थव्यवस्था में भाीगदार तबकों के ऊपर पड़ने वाले बुरे असर की गहराई से नहीं समझा। नोटबंदी के तौर पर एक ‘‘मानव निर्मित आपदा’’ और देष भर में आर्थिक गतिविधियों को बुरी तरह प्रभावित करने के बाद केन्द्रीय बजट ने उन्हें यह सुनहरा मौका दिया था कि वे और अपनी भूल को सुधारें और इससे उत्पन्न हुए हालात को ठीक करने की शुरूआत करें।

संपादकीय

कांग्रेस सरकार ने उदार आर्थिक नीतियों के जरिए सिर्फ वैसे फैसलों पर अमल किया जो देशहित में थे तथा अर्थव्यवस्था को ठोस बनाने वाले थे

February, 2017

प्रधानमंत्री पी.वी. नरसिंह राव और वित्तमंत्री डा. मनमोहन सिंह के नेतृत्व वाली कांग्रेस सरकार के बाद अगली सरकार बीजेपी के नेतृत्व में बनी। जैसा कि गैर कांग्रेस सरकारों के दौर में होता रहा है, भारतीय अर्थव्यवस्था एक बार फिर नई चुनौतियों में फंस गई और 1997 से अर्थतंत्र में पतन के रूझान दिखाई देने लगे। इसके पीछे वजह यह थी कि एक तरफ जहां पूर्व कांग्रेस सरकार ने उदार आर्थिक नीतियों के जरिए सिर्फ वैसे फैसलों पर अमल किया जो देशहित में थे तथा अर्थव्यवस्था को ठोस बनाने वाले थे, वहीं परिवर्तित बीजेपी सरकार ने बहुत से ऐसे फैसले किए जिनका मकसद राजनीतिक फायदा उठाना भर था।

पूर्व केन्द्रीय मंत्री ई. अहमद का निधन

February, 2017

नई दिल्लीः केरल के एक वरिष्ठ नेता श्री ई. अहमद 31 जनवरी, 2017 को संसद में तब अकस्मात बेहोश होकर गिर गए जब राष्ट्रपति के अभिभाषण के साथ संसद का बजट सत्र शुरू ही हुआ था। उन्हें उस समय दिल का दौरा पड़ा जब राष्ट्रपति प्रणव मुखर्जी संसद के संयुक्त सत्र को सम्बोधित कर रहे थे। श्री अहमद डा. मनमोहन सिंह के मंत्रिमंडल में विदेश राज्यमंत्री रह चुके थे। उन्हें स्ट्रेचर से तुरंत एक डाक्टर के साथ डा. राम मनोहर लोहिया अस्पताल ले जाया गया जहां कांग्रेस उपाध्यक्ष श्री राहुल गांधी ने जाकर उनके स्वास्थ्य के बारे में पूरी जानकारी ली।

आंध्र प्रदेश कांग्रेस ने मुख्यमंत्री को दी खुली बहस की चुनौती

February, 2017

अमरावतीः आंध्र प्रदेश कांग्रेस कमेटी के अध्यक्ष एन. रघुवीरा रेड्डी ने मुख्यमंत्री चंद्रबाबू नायडू को 8 जनवरी, 2016 को एक खुला पत्र भेजकर उनसे राज्य में चल रही सिंचाई परियोजनाओं पर खुली बहस करने की चुनौती दी है।

नोटबंदी के खिलाफ प्रदर्शन

February, 2017

वजयवाड़ाः आंध्र प्रदेश कांग्रेस के अध्यक्ष एन. रघुवीरा रेड्डी ने कहा कि सिर्फ मानसिक रूप से दिवालिया नेता ही नोटबंदी या भारत में केशलेस इकॉनामी (नकद रहित अर्थव्यवस्था) का समर्थन कर रहे थे।

बिहार नोटबंदी के खिलाफ विरोध प्रदर्शन

February, 2017

पटनाः अ.भा. कांग्रेस कमेटी के दिशा निर्देशो के अनुसार बिहार प्रदेश कांग्रेस कमेटी ने 9 जनवरी, 2017 को मोदी सरकार के द्वारा की गई नोटबंदी के खिलाफ सभी जिला मुख्यालयों में विरोध प्रदर्शन और धरने का आयोजन किया।

आरबीआई गवर्नर को ज्ञापन

February, 2017

पटनाः बिहार प्रदेश कांग्रेस कमेटी ने नोटबंदी के खिलाफ 18 जनवरी, 2017 को प्रदर्शन किया और आरबीआई शाखा का घेराव किया।

महात्मा गांधी को श्रद्धांजलि

February, 2017

पटनाः बिहार प्रदेश कांग्रेस कमेटी ने 30 जनवरी, 2017 को महात्मा गांधी के 70वें शहादत दिवस पर उन्हें सदाकत आश्रम में श्रद्धांजलि दी।

धरना प्रदर्शन

February, 2017

आराः भोजपुर जिला कांग्रेस ने जिला अध्यक्ष श्री त्रिवेणी प्रसाद सिंह के नेतृत्व में 16 जनवरी, 2017 को सरकार द्वारा नोटबंदी के फैसले के खिलाफ धरना का आयोजन किया।

  • संपादक

    • डा. गिरिजा व्यास

  • संपादक मंडल

    • श्री सलमान खुर्शीद
    • श्री जयराम रमेश

  • संपादकीय सहायक

    • श्री राम नरेश सिन्हा
    • श्री रतन फ्रांसिस

  • प्रबंधक

    • (प्रशा. एवं वितरण)
    • श्री कमल साहू

  • प्रकाशक

    • श्री मोतीलाल वोरा
    • Published every month by
      श्री मोतीलाल वोरा
      on behalf of Sandesh Trust,
      All India Congress Committee

  • संपादकीय कार्यालय

    • Congress Sandesh
    • अखिल भारतीय कांग्रेस कमेटी
    • 24, अकबर रोड,
    • नयी दिल्ली-110011
    • फोन: 2301 9080
    • ईमेल: aicccongresssandesh@gmail.com
    • congress-sandesh@hotmail.com
    • वेबसाईट: http://inc.in/congresssandesh/Hi/