• संपादक

    • डा. गिरिजा व्यास

  • संपादक मंडल

    • श्री सलमान खुर्शीद
    • श्री जयराम रमेश

  • संपादकीय सहायक

    • श्री राम नरेश सिन्हा
    • श्री रतन फ्रांसिस

  • प्रबंधक

    • (प्रशा. एवं वितरण)
    • श्री कमल साहू

  • प्रकाशक

    • श्री मोतीलाल वोरा
    • Published every month by
      श्री मोतीलाल वोरा
      on behalf of Sandesh Trust,
      All India Congress Committee

  • संपादकीय कार्यालय

    • Congress Sandesh
    • अखिल भारतीय कांग्रेस कमेटी
    • 24, अकबर रोड,
    • नयी दिल्ली-110011
    • फोन: 2301 9080
    • ईमेल: aicccongresssandesh@gmail.com
    • congress-sandesh@hotmail.com
    • वेबसाईट: http://inc.in/congresssandesh/Hi/

मुख्य लेख

हमारे पास संख्या की भले कमी हो, परन्तु हम अपने काम से इस कमी को पूरा कर लेंगे और संसद के माध्यम से जवाबदेही की मांग करते रहेंगेः श्रीमती सोनिया गांधी

मैं इस बैठक में आप सबका स्वागत करती हूं। इससे काफी पहले हमारी बैठक हुई थी। मैं कश्मीर पर कुछ विचार प्रकट करने के साथ अपना भाषण शुरू करना चाहूंगी। घाटी के ताजे घटनाक्रम दुखद रहे हैं, जिससे देश के सामने गंभीर चुनौती खड़ी हो गई है। हमारे भाइयों और बहनों की जान की हानि तथा परेशानी, चाहे वे नागरिक हों अथवा सशस्त्र बल के जवान, हमारी चिन्ता के मुख्य कारण हैं। राष्ट्रीय सुरक्षा के मामले में कोई ढील नहीं दी जा सकती। उग्रवादियों से अवश्य ही सख्ती से निपटा जाना चाहिए। हमें यह आत्म चिन्तन करने की भी जरूरत है कि किस तथ्य ने हमारे युवाओं को इस हद तक अपने गुस्से का इजहार करने तथा विरोध प्रदर्शन के लिए, यहां तक कि हिंसा पर उतारू होने के लिए प्रेरित किया। क्या हम ईमानदारी के साथ यह कह सकते हैं कि हमने उनके तर्को पर ईमानदारी के साथ गौर किया है? वे हमारे अपने लोग हैं, हम उनका परित्याग नहीं कर सकते।

संपादकीय

कश्मीर जल रहा है और प्रधानमंत्री विदेश में ढोल बजा रहे हैं, दौरों पर ट्वीट कर रहे हैं

नई दिल्लीः जबकि जम्मू-कश्मीर की स्थिति तनावूपर्ण है, प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी घर संभालने की बजाए दुनिया भर का दौरा कर ढोल बजाने में व्यस्त हैं।’’ यह ट्वीट कांग्रेस पार्टी ने की है। कांग्रेस ने 11 जुलाई, 2016 को यहां प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी पर चुटकी लेते हुए कहा कि वह अफ्रीका के 4 राष्ट्रों के दौरे पर है। इसने हिन्दी में ट्वीट कर कहा है, ‘‘कश्मीर जल रहा है, 21 लोग मारे गए हैं। रोज सुरक्षा बल पर हमले हो रहे हैं। अमरनाथ यात्रा स्थगित हो चुकी है और मोदीजी ढोल बजाने में मग्न हैं। कम से कम अब तो जाग जाएं।

कांग्रेस अध्यक्ष श्रीमती सोनिया गांधी द्वारा पैम्पोर आतंकी हमले की निन्दा उग्रवादियों द्वारा घात लगाकर किए गए हमले में सीआरपीएफ दस्ते के कम से कम 8 जवान शहीद

नई दिल्लीः जम्मू-कश्मीर के पैम्पोर में 25 जून, 2016 को संदिग्ध उग्रवादियों के हमले में सीआरपीएफ के कम से कम 8 जवान मारे गए। उग्रवादियों ने जवानों को ले जा रही बस पर हमला कर दिया था। जवाबी कार्रवाई में दो आतंकवादी भी मारे गए। हमले में 5 जवान मारे गए और 20 घायल हो गए, जिन्हें अस्पताल में भर्ती कराया गया। इनमें से तीन घायलों ने आर्मी अस्पताल में दम तोड़ दिया।

नीस में बेस्तले समारोह के दौरान 84 व्यक्तियों को मार डाला गया

नीस (फ्रांस)ः नीस के फ्रांसीसी रिविएरा सिटी में 14 जुलाई की रात में एक ट्रक बेस्तले दिवस समारोह में घुस गया, जिससे कुचलकर 84 व्यक्ति मारे गए। इस आतंकी हमले में ट्रक ड्राइवर ने उत्सव मना रहे लोगों पर गोली भी चलाई। बाद में उसे पुलिस ने मार गिराया। दक्षिणी फ्रांस के इस नगर के समुद्र तटीय इलाके में आयोजित फ्रांस के राष्ट्रीय दिवस के अवसर पर पटाखे छोड़े जाने के बाद एक ट्रक से हमला किया गया। गृहमंत्री ने

ढाका आतंकी हमलाः हमले के 20 मिनट के भीतर सारे बंधकों की हत्या

कांग्रेस अध्यक्ष ने हमले की निन्दा करते हुए कहा कि ऐसे हमले सारे नीतिपरक कदमों के विपरीत हैं नई दिल्लीः बांग्लादेश की राजधानी ढाका में कैफे पर आतंकी हमला करने वाले इस्लामी आतंकी गुट ने 20 मिनटों के भीतर ही 20 बंधकों की हत्या कर दी थी। एक कैफे पर यह हमला किया गया था।

तुर्की के इस्तानबुल हवाई अड्डे पर आत्मघाती हमले में 41 मरे

नई दिल्लीः आत्मघाती हमले में 29 जून, 2016 को 41 लोग मारे गए। दिन भर मृतकों के आंकड़े के बारे में तरह-तरह के उहापोह के बाद इस्तानबुल के गवर्नर ने इस आंकड़े की पुष्टि की है। इनमें 10 विदेशी शामिल हैं।

इराक की राजधानी बगदाद में आत्मघाती हमले में मृतकों की संख्या बढ़कर 165 हुई

नई दिल्लीः इराक के कर्रादा जिले में 3 जुलाई, 2016 को विस्फोटकों से भरी एक ट्रक को डिटोनेटर लगाकर उस समय उड़ा दिया गया जब लोग रमजान की समाप्ति पर ईद की खरीदारी करने गए हुए थे। 2007 के बाद इसे सर्वाधिक बड़ा बम हमला बताया जा रहा है।

एनएससीएन नेता इसाक चिसी स्कू का निधन

नेशनल सोशलिस्ट काउंसिल ऑफ नागलिम (इसाक-मुईवाह) अथवा एनएससीएन (आईएन) के नेता इसाक चिसी का एक संघर्षशील व्यक्ति के रूप में निधन हो गया। स्कू का 28 जून, 2016 को दिल्ली के एक अस्पताल में निधन हुआ। सरकार से समझौते के 11 माह बाद उनका निधन हुआ। वह 87 साल के थे।

उत्तराखंड में बादल फटने से कम से कम 30 मरे

नई दिल्लीः कांग्रेस अध्यक्ष श्रीमती सोनिया गांधी ने उत्तराखंड के चमोली एवं पिथौड़ागढ़ में बादल फटने से जानमाल की भारी क्षति पर गहरा दुख प्रकट किया है। कांग्रेस अध्यक्ष ने कहा है, ‘‘दिन भर अचानक आई बाढ़ के निराषाजनक समाचार मिलते रहे जिससे अनेक लोग मारे गए तथा घायल हो गए, जो भारी दुख एवं चिन्ता का विषय है। अनेक लोगों के लापता होने से भी गहरी चिन्ता हुई है।

  • संपादक

    • डा. गिरिजा व्यास

  • संपादक मंडल

    • श्री सलमान खुर्शीद
    • श्री जयराम रमेश

  • संपादकीय सहायक

    • श्री राम नरेश सिन्हा
    • श्री रतन फ्रांसिस

  • प्रबंधक

    • (प्रशा. एवं वितरण)
    • श्री कमल साहू

  • प्रकाशक

    • श्री मोतीलाल वोरा
    • Published every month by
      श्री मोतीलाल वोरा
      on behalf of Sandesh Trust,
      All India Congress Committee

  • संपादकीय कार्यालय

    • Congress Sandesh
    • अखिल भारतीय कांग्रेस कमेटी
    • 24, अकबर रोड,
    • नयी दिल्ली-110011
    • फोन: 2301 9080
    • ईमेल: aicccongresssandesh@gmail.com
    • congress-sandesh@hotmail.com
    • वेबसाईट: http://inc.in/congresssandesh/Hi/